Friday, October 4, 2013

तूने पूछा है मगर कैसे बताएं तुझ को 
दुःख इबारत तो नहीं कि तुझे लिख भेजें .. अज्ञात

No comments:

Post a Comment