Friday, October 4, 2013

शर्म, दहशत, झिझक, परेशानी 
नाज़ से काम क्यूँ नहीं लेती 
आप, वो, जी, मगर, ये सब क्या है 
तुम मेरा नाम क्यूँ नहीं लेती .. Jaun Eliya

No comments:

Post a Comment