Friday, October 4, 2013

ये सोच कर कि शायद खिड़की से झाँक ले वो
गली में खेलते बच्चे लड़ा दिए मैंने ... अज्ञात

Ye soch kar ki shayad khidki se jhaank le woh,
Gli meiN khelte bache lda diye maine.. Unknown

No comments:

Post a Comment